इस काली मुर्गी का अंडा बिकता है 1,000 रूपये दर्जन, सरकार के तरफ से भी मिलता है सब्सिडी, जानें कैसे करें काली मुर्गी का पालन

 

आपकी जानकारी के लिए बता दे इस काली मुर्गी का अंडा बिकता है 100 से 120 रूपये में एक पीस, क्योकि इस समय भारत में प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल अंडो का ही हो रहा है। वही जो लग अच्छी कहते पैसे वाले है वो ये आम सफ़ेद अंडे नहीं बल्कि शुद्ध देसी काली अंडो का इस्तेमाल करते है।

और काली अंडा कड़कनाथ मुर्गी की होती है जिससे पंख, त्वचा से लेकर अंडे भी काले होते है, इन अंडो में कोलेस्ट्रॉल और फैट बिलकुल ना के बराबर होता है। यही नहीं है ये फेमस कला अंडा, ये कई सारी बीमारिया जैसे की हार्ट, डाइबिटीज, एनिमिक रोगियों की काफी लाभकारी होता है।

इन काली मुर्गियों का पालन कैसे करें 

वही काली मुर्गी का पालन करने के लिए आप इनके चूजों बाहर कही से मंगाकर तीन महीने तक इनकी सेवा करते है तो ये तैयार हो जाते है जिसके बाद आप बाजार में इनके अड़े या फिर पूरा मुर्गो मुर्गियों को ही बेंच सकते है, हालाँकि आपने अपने गॉव में देखा होता SC/ST लोग ज्यादातर इसका पालन करते है। और वो तीन महीने ही उसको बड़ा करके 1.5 से 2 लाख रूपये कमा लेते है। इसका पालन अन्य मुर्गियों की तरह ही होता है।

बाजार में है काली मुर्गी का काफी ज्यादा डिमांड

आज के समय में काफी लोग काली मुर्गी के अंडे और काली मुर्गियों का मांस को खाना ज्यादा पसंद कर रहे है। और महंगा होने का सबसे बड़ा ये रीज़न है काली मुर्गिया हर जगह मिलता नहीं है। हालाँकि इसके अंडे में काफी ज्यादा प्रोटीन होता है इस वजह से जो लोग जिम करते है या फिर जिन लोगो को बढ़िया क्वालिटी के खाने की आदत है वो लोग इसी मुर्गी के मांस और अंडे को खाना पसंद करते है।

 

यह भी पढ़िए :

इस Diwali Bajaj Pulsar N250 पर मिल रहा है बढ़िया Offer, फीचर्स के बादशाह को ले जाए अपने घर, मात्र इस कीमत पर

कड़कनाथ मुर्गी का पालन में मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से मिलता है सब्सिडी

वही काली मुर्गियों के साथ साथ इसका मांस भी 1000 से लेकट 1500 तक में बिकता है क्योकि जल्दी ये काली मुर्गी का पोल्ट्री फॉर्म आपको देखने को नहीं मिलता है, इसलिए जिसे भी काली मुगी का अंडा या फिर मांस लेना होता है वो इसका पहले है प्री-बुकिंग करके मंगाते है।

ऐसे में मध्य पदेश सरकार (मुर्गी पालन योजना के तहत) इन काली मुर्गी का पालन करने के लिए 50,000 से 2 लाख रूपये तक की सब्सिडी प्रदान करती है। यादनी यदि आपने काली मुर्गी का पालन करके का सोच लिया है तो काली मुर्गी के चूजों को बाहर से मांगा सकते है और जिस तरफ सफ़ेद मुर्गी को पाला जाता है ठीक उसी प्रकार इसे भी पाला सकते है।

 

Share :

Leave a comment